भारतीय रेलवे ने ‘मुखबिर’ पोर्टल लॉन्च किया

भारतीय रेलवे ने 11 फरवरी, 2018 को अपने 13 लाख कर्मचारियों के लिए वॉलन्टरी सेफ्टी रिपोर्टिंग वेबसाइट लॉन्च की। इस वेबसाइट में कर्मचारी सुरक्षा संबंधी कार्यों में कमी तथा जोखिमों के विषय में रिपोर्ट कर सकेंगे तथा रिपोर्ट करने वाले की पहचान गुप्त रखी जाएगी। इन जानकारियों को किसी भी छोटी-बड़ी दुर्घटना से बचने के लिए कमियों को दूर करने में किया जाएगा। सुरक्षात्मक मुद्दों पर कर्मचारियों को चेतावनी देने के लिए इस वेबसाइट का प्रयोग किया जाएगा तथा रिपोर्ट करने वाले व्यक्ति के विरुद्ध इन जानकारियों को आधार बना कर किसी भी तरह की दंडात्मक कार्रवाई नहीं की जाएगी।

वेबसाइट के अनुसार, जो व्यक्ति रिपोर्ट कर रहा है उसकी पहचान मुख्य सुरक्षा अधिकारी तक सीमित रखी जाएगी, जिसका उपयोग मसले की अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए किया जा सकता है या उस कमी को दूर करने के लिए किए गए प्रयासों के विषय में प्रतिपुष्टि करने हेतु उपयोग में लाया जा सकता है।

जो व्यक्ति किसी प्रकार की कमी की रिपोर्ट इस वेबसाइट में करेगा, वह कमी को दूर करने के प्रयासों की जानकारी लेने के लिए वेबसाइट में स्टेट्स भी चेक कर सकेगा। रेलवे बोर्ड के चेयरमेन ने सभी कर्मचारियों को पत्रा लिखकर असुरक्षित गतिविधियों के बारे में रिपोर्ट करने को कहा है। उन्होंने कहा कि यह आवश्यक है कि रेलवे अपने सिद्धांत ‘सेफ्टी फर्स्ट को बनाए रखे। व्यवस्थित सुरक्षा प्रबंधन प्रणाली से खतरों की पहचान कर ट्रेन आपरेशंस को सुरक्षित बनाया जा सकेगा। यह वेबसाइट भारतीय रेलवे की रेलवे सूचना प्रणाली केंद्र  अंतर्गत विकसित की गई है। यह वेबसाइट एक ट्रैकमैन से लेकर अधिकारी तक सभी के लिए है तथा यह एक सार्वभौमिक रिपोर्टिंग प्रणाली है। इसी प्रकार की एक प्रणाली एयर इंडिया में लॉन्च की गई थी। अब ऐसी ही प्रणाली रेलवे के पास होगी। एयर इंडिया के कर्मचारियों तथा रेलवे कर्मचारियों के बीच विचार-विमर्श की व्यवस्था की गई है। जिससे इस प्रणाली के कार्य को समझा जा सके और रेलवे कर्मचारियों को इस व्यवस्था से होने वाले लाभों के विषय में पता चल सके। इस प्रणाली को लागू किए जाने का उद्देश्य है रेलवे के हर कर्मचारी को प्रशासन की आंख तथा कान बनाया जाए जिससे यात्रियों की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके। यद्यपि इस व्यवस्था में असत्य रिपोर्ट मिलने की संभावना बहुत अधिक है, फिर भी रेलवे के प्रशासन को आशा है कि इस वेबसाइट के कारण सुरक्षा व्यवस्था में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *